शर्मनाक : JSSPS की महिला कोच को अश्लील वीडियो भेजने के आरोप में अर्जुन पुरस्कार विजेता भगीरथ समाई बर्खास्त 
sportsjharkhand.com टीम रांची
2020-03-12
झारखंड सरकार व CCL की संयुक्त इकाई झारखंड राज्य खेल प्रोत्साहन सोसायटी (JSSPS) के शूटिंग कोच भगीरथ समाई को संस्था की एक महिला कोच को अश्लील वीडियो भेजने के आरोप में बर्खास्त कर दिया गया है। sportsjharkhand.com को जानकारी मिली है कि भगीरथ समाई ने 8 मार्च को महिला कोच के व्हाट्सएप्प पर अश्लील वीडियो भेजा था। महिला कोच ने इस मामले को काफी गंभीरतापूर्वक उच्चाधिकारियों के संज्ञान में पूरा मामला 11 मार्च को सामने लाया। गुरुवार को JSSPS के लोकल मैनेजमेंट कमिटी के CEO वसाब चौधरी ने शूटिंग कोच भगीरथ समाई को तत्काल प्रभाव से बर्खास्त कर दिया है और उन्हें सोमवार तक फ्लैट हैंडओवर कर मेगा स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स से सदा सर्वदा के लिए निकल जाने का आदेश सुनाया है। भगीरथ समाई अभी छुट्टी पर हैं और सोमवार को लौटनेवाले हैं। पता हो कि JSSPS में अभी 9 साल से लेकर 18 साल तक के लगभग 400 बच्चों को प्रशिक्षण दिया जा रहा है। ऐसे में इस तरह के मामले सामने आने के बाद ज्यादा सतर्क रहने की जरूरत है। पूरे मसले पर भगीरथ समाई का पक्ष जानने की कोशिश की गई लेकिन उन्होंने फोन नहीं उठाया।




अश्लील वीडियो भेजने का हैबिचुअल ऑफेण्डर रहा है भगीरथ समाई 


 भगीरथ समाई अश्लील वीडियो भेजने का हैबिचुअल ऑफेण्डर रहा है। ये दूसरी बार है जब भगीरथ समाई ने व्हाट्सएप्प पर अश्लील वीडियो भेजा है। अगस्त 2019 में भी JSSPS के ऑफिसियल ग्रुप में एक अश्लील वीडियो डाला था। मामले की जांच में भगीरथ समाई ने खुद के फोन के दुरुपयोग किसी और व्यक्ति के द्वारा किए जाने का आरोप लगाया था। 




 पोर्नोग्राफी ने लील लिया भगीरथ समाई का कैरियर


खिलाड़ी के रूप में अभूतपूर्व प्रदर्शन करने पर केंद्र सरकार ने जिस भगीरथ समाई को अर्जुन पुरस्कार से सम्मानित किया। तत्कालीन आंध्र प्रदेश सरकार ने 32वें राष्ट्रीय खेलों के लिए बनाए गए शूटिंग रेंज का नाम जिस भगीरथ समाई के नाम पर किया। जिस भगीरथ समाई ने एक खिलाड़ी के रूप में दो बार ओलंपिक, एशियाड-एशियाई चैंपियनशिप में पदक विजेता व विश्व चैंपियनशिप में देश का झंडा बुलंद किया वो आज पोर्नोग्राफी के जाल में फंस कर एक कोच के रूप में अपना कैरियर तबाह करने की कगार पर आ पहुंचा है। लगभग एक साल पहले तक भगीरथ समाई के पास बेस फोन ही हुआ करता था फिर जब से एंड्रॉइड फोन आया वो पोर्नोग्राफी के जाल में फंसते चले गए। पता हो कि सेना से रिटायर होने के बाद भगीरथ समाई ने प्रशिक्षण में अपना कैरियर बनाने के लिए JSSPS से जुड़े थे।

 



JSSPS में अब भी कई भगीरथ समाई मौजूद ! 


sportsjharkhand.com पिछले तीन वर्षों से JSSPS में कार्यरत भगीरथ समाईयों के खिलाफ लगातार मुहिम चलाता रहा है। हमारी मुहिम का ही असर था कि लंगोट के ढीले दो कर्मचारियों व दो वरीय अधिकारियों को JSSPS से तड़ीपार किया गया। पूरी जिम्मेवारी से sportsjharkhand.com कहता है कि JSSPS में कई और भगीरथ समाई मौजूद हैं। ज़रूरत है भगीरथ समाई  को ढूंढकर बाहर का रास्ता दिखाना ही होगा। अन्यथा भविष्य में इससे बड़ी शर्मनाक घटना झेलने के लिए JSSPS प्रबंधन को तैयार रहना होगा। इस मसले पर जीरो टोलरेंस के साथ काम करने की ज़रूरत है और sportsjharkhand.com हरसंभव मदद को तैयार हैं।