Sports Jharkhand
नामनोएल टोप्पो
निक नेम
जन्म
जन्म स्थानसेवई, सिमडेगा
लिंगMale
पिता
माता
पत्नीविश्वासी टोप्पो
संतान
पेशासेना, सिग्नल कोर
प्लेइंग पोजिशनलेफ्ट आउट, राइट आउट
टीमसेना, भारत, इंडियन वाॅरियर्स, पंजाब
अकादमी
कोच
खेल उपलब्धियांसदस्य, 1966 बैंकाॅक एशियाड
विदेश दौराअफगानिस्तान, आॅस्ट्रेलिया, सिंगापुर, मलेशिया, श्रीलंका
अंतरराष्ट्रीय कैरियर1961-1966
पुरस्कार
नेतृत्व
खेल प्रशासन
शिक्षा
जब भारतीय हाॅकी में पंजाब का बोलबाला था तो तब नोएल टोप्पो ने भारतीय टीम में अपनी जगह बनायी। बेहतर जीवन की तलाश में 14 साल की उम्र में सेना में भर्ती हुए नोएल ने हाॅकी में अपनी प्रतीभा का लोहा मनवाया। 1962 के एशियाई खेलों के लिए भी नोएल टोप्पो का चयन भारतीय टीम में हुआ लेकिन पैसे की कमी के कारण वे इन खेलों में भाग लेने से वंचित रह गये। हाॅकी में कोई गाॅड फादर नहीं होने का नुकसान भी नोएल को झेलना पड़ा और 1964 ओलंपिक के लिए टीम में जगह बनाने के बावजूद स्टैंड बाई बना दिया गया।