खेल प्रतिभा खोजने के लिए ग्रामीण फुटबॉल प्रतियोगिता आरंभ

2019-07-16

 रांची

sportsjharkhand.com टीम


 

सीसीएल के बी एण्‍ड के क्षेत्र स्थित करगली फुटबॉल मैदान में ग्रामीण फुटबॉल प्रतियोगिता का आगाज़ मंगलवार को हुआ। नॉक आउट आधार पर खेली जा रही इस प्रतियोगिता में 16 टीमें बालक वर्ग में एवं 2 टीम बालिका वर्ग में भाग ले रही है। प्रतियोगिता का शुभारंभ सीसीएल सीएमडी गोपाल सिंह ने खिलाड़ियों से परिचय प्राप्त कर और फुटबॉल किक कर किया। उदघाटन मैच अरबिन्‍दो क्‍लब एवं बोकारो कोलियरी के बीच खेला गया जबकि दूसरा प्रदर्शनी मैच बलिका वर्ग की दोनों टीमों के बीच खेला गया। दोनों मैच की प्रत्येक टीम के पांच सर्वश्रेष्ठ खिलाडि़यों को सम्‍मानित किया गया। CCL CMD ने सभी एरिया के महाप्रबंधकों को निर्देश दिया कि सभी खेल मैदानों को दुरुस्त किया जाय और खेल छात्रावास का निर्माण भी किया जाए। इसके अलावा उन्होंने खेल मैदानों के समतलीकरण व साफ-सफाई पर विशेष ध्यान देने का आग्रह भी किया। ग्रामीण फुटबॉल प्रतियोगिता में टीमों की संख्या पर असंतुष्टि जाहिर करते हुए CMD ने एरिया के महाप्रबंधकों को टीमों की संख्या बढ़ाने का भी निर्देश दिया। इस अवसर पर सीसीएल मुख्‍यालय से कल्‍याण महाप्रबंधक विमलेन्‍दु कुमार, बी एण्‍ड के महाप्रबंधक एम के पंजाबी, कथारा महाप्रबंधक पी चन्‍दा, ढोरी महाप्रबंधक पी वाजपेयी, प्रबंधक-खेल आदिल हुसैन समेत कई अधिकारी एवं कोयलकर्मी उपस्थित रहे।



JSSPS के 20 कैडेट्स अभ्यास व पढ़ाई छोड़ पहुंचे करगली


ग्रामीण फुटबॉल प्रतियोगिता के शुभारंभ के अवसर पर राज्य सरकार व CCL के संयुक्त प्रयास से चल रही JSSPS की खेल अकादमी के 20 कैडेट्स अपना अभ्यास व पढ़ाई छोड़ करगली पहुंचे थे। कार्यक्रम के दौरान 14-15 साल के कैडेट्स की उपलब्धियों का बखान कर उन्हें सम्मानित किया गया। 9 बजे सुबह होटवार से रवाना हुए कैडेट्स देर शाम लगभग 8 बजे होटवार पहुंचे। अभ्यास-पढ़ाई की जगह चेहरा चमकाई से कैडेट्स का कितना भला होगा, TIME WILL TELL THE TRUTH. सिर्फ कैडेट्स ही नहीं एथलेटिक्स कोच आशु भाटिया भी अकादमी के कैडेट्स को होटवार में प्रशिक्षण देने की बजाय करगली के दौरे पर गए थे। किसी अधिकारी की मानसिक तृप्ति के लिए भविष्य के पदक विजेताओं को दिग्भ्रमित करने से अकादमी का फायदा कम, नुकसान ज्यादा है। इतनी समझ तो विकसित करनी होगी।



झारखंड में खेल प्रतिभाओं की कमी नहीं है। इन्हें तलाशने व तराशने की जिम्मेदारी हम सबकी है। 

गोपाल सिंह, CMD CCL