रांची जिला क्रिकेट टीम में जगह बनानी है ? NIKE का महंगा जूता खरीदो...ताज स्पोर्ट्स पहुंचाओ...और टीम में आ जाओ !

2019-04-25

sportsjharkhand.com टीम

रांची


क्या आप अपने क्रिकेटर बेटे-भाई-भतीजा-संबंधी को रांची जिला क्रिकेट टीम में शामिल कराना चाहते हैं ? तो NIKE के शोरूम में जाईये AIR VAPOR MAX जूता खरीदिये फिर निर्मला कॉलेज स्थित ताज स्पोर्ट्स नामक दुकान पहुंचिए। जूता टेबल पर रखिये, मालिक को पसंद आ गया तो फोन पर ही आपके सिलेक्शन का काम हो जाएगा। विश्वास ना हो तो ख़बर के साथ दिए गए वीडियो का दर्शन कर लीजिए।


राफे को देख लेना... बहुत परेशान है... अबे बैट्समैन है बैट्समैन... हम ऊपर से बोल देंगे...तुम केवल हां में हां मिला देना...! आवाज़ रांची जिला क्रिकेट संघ (RDCA) के कार्यकारिणी समिति सदस्य व पैसे लेकर खिलाड़ियों को जिला व राज्य टीम में जगह दिलाने के स्टिंग ऑपरेशन में फंसे RDCA के निलंबित सचिव मो वसीम के लंगोटिया यार मो उज्जैर की। फोन पर दूसरी ओर जो सख्स है उसका नाम है गौरव सिंह पन्ना। वही पन्ना जो U 19 जिला टीम का चयनकर्ता, कोच व मैनेजर भी रह चुका है (20 हज़ार रुपये में टीम में जगह दिलानेवाला वायरल वीडियो का कुख्यात हीरो)। कार्यकारिणी सदस्य मो उज्जैर के दरबार में 15 हज़ारी जूता NIKE AIR VAPOR MAX लेकर पहुंचे  RCA के एक खिलाड़ी अब्दुल राफे कमल अंसारी के नाम की पैरवी रांची U 19 टीम के लिए कर रहे हैं और दावा कर रहे हैं कि वे ऊपर से सबकुछ सेट कर देंगे। एक चयनकर्ता की हैसियत से तुम (पन्ना) हां कर देना। और आपको जानकर ये आश्चर्य होगा कि लगभग 70 खिलाड़ियों के बीच औसत प्रदर्शन के बावजूद अंतिम 25 और अंततः येन केन प्रकारेण अब्दुल राफे कमाल अंसारी U 19 टीम में जगह बनाने में सफल हो जाता है।

जब राजधानी रांची का ये हाल है तो अन्य जिलों का हाल बयां करना सूर्य को दीप दिखाना होगा। 


आमने-सामने



मेरे साथ धोखा हुआ है : अब्दुल राफे

sportsjharkhand.com से बात करते हुए अब्दुल राफे ने बताया कि पिछले साल से मो उज्जैर ने उसे U 19 टीम में जगह दिलाने का लॉलीपॉप दिखा दम भर आर्थिक भयादोहन किया। U 19 टीम का फॉर्म गोलचक्कर मैदान में जमा हो रहा था, वहां से मो उज्जैर सर ने मुझे भगा दिया। बाद में  NIKE AIR VAPOR MAX जूता लेने के बाद फॉर्म जमा हुआ और U 19 टीम में जगह फाइनल हुई। बगैर पैसा के लीग नहीं खेलाते हैं ये लोग।


आरोप झूठा है, फंसाने की साज़िश है : मो उज्जैर

sportsjharkhand.com द्वारा उपरोक्त विषय पर सवाल पूछे जाने पर RDCA कार्यकारिणी सदस्य मो उज्जैर ने आरोपों को झूठ बताते हुए साज़िश का हिस्सा बताया। अल्लाह जानता है आज तक मैंने किसी से एक पैसा नहीं मांगा।



शुक्रवार को भी जारी रहेगी हमारी तहकीकात