Sports Jharkhand
शर्मनाक : JSCA में खिलाड़ियों के सपनों पर क्लरिकल मिस्टेक का ग्रहण
2018-01-05  18:12:12

sportsjharkhand.com टीम

रांची

बुधवार को JSCA (झारखंड राज्य क्रिकेट संघ) द्वारा सैय्यद मुश्ताक अली टी-20 प्रतियोगिता के लिए झारखंड की 15 सदस्यीय टीम की घोषणा के 18 घंटे बाद ही एक युवा क्रिकेटर आसिफ मंसूरी के सपनों पर JSCA की क्लरिकल मिस्टेक का ग्रहण लग गया और उसे टीम से बाहर करने का फरमान जारी कर दिया गया। आसिफ मंसूरी की जगह सन्नी गुप्ता को टीम में शामिल कर लिया गया है। पिछले दो साल से धनबाद की ओर से खेलते हुए आसिफ मंसूरी लगातार बेहतर प्रदर्शन की बदौलत पहली बार झारखंड टीम में अपना स्थान बनाने में कामयाब तो हो गए लेकिन JSCA की क्लरिकल मिस्टेक ने उनके सपनों पर 18 घंटे में ही पानी फेर दिया। अगस्त माह में ही राज्य के सभी खिलाड़ियों ने JSCA के पास जन्म तिथि, पता संबंधी पूरी जानकारी उपलब्ध करा दी थी, लेकिन स्क्रूटनी नहीं की गयी। JSCA के उच्च पदस्थ सूत्र बताते हैं कि टीम के कोच राजीव कुमार राजा के कहने पर दो साल से लगातार शानदार प्रदर्शन करनेवाले आसिफ मंसूरी को टीम में शामिल किया गया था लेकिन गलत पते की जानकारी मिलने के बाद उसे टीम से बाहर का रास्ता दिखा दिया गया।  

क्या थी क्लरिकल मिस्टेक ?  

JSCA ने निबंधित सभी खिलाड़ियों से अगस्त माह में फाॅर्म मंगवा लिए थे, जिनमें खिलाड़ी के संदर्भ में पूरी जानकारी जैसे कि जन्म तिथि, पता और अन्य पूरी जानकारी उपलब्ध करायी गयी थी। नियमतः स्क्रूटनी होने के बाद ही खिलाड़ियों को राज्य स्तरीय कैंप के लिए बुलाया भेजा जाना था, लेकिन स्क्रूटनी हुई ही नहीं। आसिफ मंसूरी के टीम में चुने जाने के बाद औपचारिकतावश दस्तावेज मांगे गए और पता झारखंड से बाहर का होने के कारण टीम से बाहर कर दिया गया। अगर JSCA ने अगस्त-सितंबर में ही स्कू्रटनी हुई होती तो एक खिलाड़ी का सपना टूटने से बच जाता। 

बाहरी खिलाड़ी और JSCA : तेरे-मेरे बीच में कैसा है ये बंधन...

JSCA व बाहरी खिलाड़ियों का मुद्दा हमेशा सुर्खियों में बना रहता है। इलाहाबाद, मेरठ, गाजियाबाद, बनारस, बलिया समेत यूपी व हरियाणा के कई जिलों के सैकड़ों खिलाड़ी पिछले एक दशक से झारखंड के कई जिलों में क्रिकेट का भविष्य तलाश रहे हैं। JSCA इनपर लगाम लगाने की तैयारियों में भी जुटा है लेकिन सफलता नहीं मिल रही। इनमें से कई खिलाड़ियों के चयन के तौर-तरीकों पर हमेशा सवाल उठते रहे हैं। 


टीम से किसी को बाहर नहीं किया गया है बल्कि एक अतिरिक्त खिलाड़ी को टीम में शामिल किया गया है। कोच की सलाह व टीम की जरूरत के हिसाब से ससमय 15 खिलाड़ियों की सूची BCCI को भेज दी जाएगी। 

पिंटू दा, सचिव, JSCA