Sports Jharkhand
मध्य रेलवे ने जीता खिताब, मेज़बान दक्षिण-पूर्व रेलवे बना उपविजेता
2018-01-02  17:37:42

sportsjharkhand.com टीम

रांची

रक्षा पंक्ति में लगातार लचर प्रदर्शन और आक्रमण पंक्ति के खिलाड़ियों द्वारा गोल करने के मौके गंवाने के कारण मेज़बान दक्षिण-पूर्व रेलवे की टीम को 39वीं अखिल भारतीय अंतर रेलवे महिला हॉकी प्रतियोगिता में उपविजेता बनकर ही संतोष करना पड़ा। मंगलवार को खचाखच भरे हटिया रेलवे पॉलीग्रास हॉकी स्टेडियम में मध्य रेलवे ने दक्षिण-पूर्व रेलवे को आसानी से 4-0 से हराकर खिताब जीत लिया। सेमीफाइनल में शानदार प्रदर्शन करनेवाली मेज़बान टीम से दर्शकों को बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद थी लेकिन उन्हें घोर निराशा हाथ लगी। हाफ टाइम तक सेंट्रल रेलवे की टीम 2-0 से आगे थी।

मैच के 13वें मिनट में शानदार मैदानी गोल कर मध्य रेलवे ने बढ़त बनाई इसकेे 3 मिनट बाद ही मेज़बान दक्षिण-पूर्व रेलवे को पेनाल्टी कॉर्नर मिला लेकिन बेकार गया। हाफ टाइम से पहले एक और गोल कर मध्य रेलवे ने अपनी बढ़त दोगुनी कर ली। हाफ टाइम के बाद 61वें और 68वें मिनट में दो और गोल कर मध्य रेलवे ने मेज़बान टीम का व्हाइटवाश कर दिया।

धौनी को लेकर उत्साह का था माहौल

फाइनल मैच के मुख्य अतिथि टीम इंडिया के कैप्टन कूल महेंद्र सिंह धौनी मुख्य अतिथि के तौर पर उपस्थित थे। धौनी कि उपस्थिति के कारण गैलरी में भीड़ जमा हो गई और परिस्थितियों को कंट्रोल करने में पुलिसकर्मियों को थोड़ा वक़्त लगा। दर्शक धौनी को अपने कैमरे में कैद करने को भी बेताब दिखे। 

परिजन संग पहुंचे रेलवे अधिकारी

धौनी के आगमन की जानकारी होने के बाद रेलवे के कई आलाधिकारी परिजनों संग पहुंचे थे, इनमे से एक अधिकारी अपने पुत्र को धौनी के बगल में बैठाने को लेकर कुछ ज्यादा ही उतावले थे। अव्यवस्था के बावजूद धौनी अपने पूर्व नियोक्ता (रेलवे) के पूरे कार्यक्रम के दौरान उपस्थित रहे।

वन टू वन खेल... ढीला मत छोड़...

दर्शकों में उत्साह गजब का था, कई पूर्व खिलाड़ी भी दर्शक के तौर पर मैदान में मौजूद थे और लगातार खिलाड़ियों को दिशा-निर्देश दे रहे थे। कोई वन टू वन खेलने को कह रहा था तो कोई मैच को ढीला छोड़ने पर अपनी निराशा व्यक्त कर रहा था। मेज़बान टीम के लिए दर्शकों ने काफी चीयर किया।