Sports Jharkhand
झूठ बोले, दस्तावेज़ काटे ! मीडिया में झूठा बयान दे रहा आरोपी कोच, दो-दो पत्र लिख 7.5 लाख रुपये का किया था दावा
2019-02-11  20:27:33

sportsjharkhand.com टीम

रांची


लिखतम् के आगे बकतम् की क्या बिसात लेकिन कुछ लोग अपनी करनी को छुपाने के लिए कथनी का सहारा लेते हैं। खबर के साथ दो पत्र (देखें तस्वीर) इसकी तस्दीक कर रहे हैं। दोनों पत्र बता रहे हैं कि राष्ट्रीय खेल घोटाले के एक मामले का शिकायतकर्ता जब राष्ट्रीय खेल के एक अन्य मामले में आरोपी बन रहा है तो मीडिया के समक्ष कैसे गलतबयानी पर उतर आया है। मामला कुश्ती से जुड़े एक कोच भोलानाथ से जुड़ा है। खेल निदेशालय से मिले एक नोटिस के बाद समाचार पत्रों-इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के समक्ष पक्ष रखते हुए भोलानाथ ने कहा कि \'मैं सरकार के पास पुरस्कार की राशि मांगने नहीं गया था... सरकार ने खुद बुलाकर सम्मानित किया और अब बेइज्जत करने का काम कर रही है...\' sportsjharkhand.com के पास मौजूद दस्तावेज बता रहे हैं कि भोलानाथ ने सरकार के संकल्प को धता बताकर गलत तरीके से स्वयं (भोलानाथ) को 7.5 लाख रुपये की पुरस्कार राशि का दावा एक नहीं दो-दो बार विभाग से किया था।



भोला ने दो-दो पत्र लिख बताया भोला को 7.5 लाख रुपये मिलना चाहिए


भोलानाथ ने 22 अगस्त 2011 को पत्र संख्या JSWA/702/11 और 11 नवम्बर 2011 को पत्र संख्या JSWA/717/11 को दो पत्र खेल विभाग को लिखा। पहला पत्र निदेशक को संबोधित था जबकि दूसरा पत्र विभागीय सचिव को। दोनों ही पत्रों में खिलाड़ियों व प्रशिक्षकों को मिलनेवाली पुरस्कार राशि का बिंदुवार जिक्र है। संभव है कि इन दो पत्रों के बीच में कुछ और पत्र लिखे गए हों लेकिन उसकी प्रति sportsjharkhand.com के पास नही हैं।